मुंबई में डीएमएलटी कोर्स [लैब टेकनीशियन कोर्स] - नौकरी की गारंटी
डी एम एल टी कोर्स

मुंबई में डीएमएलटी कोर्स [लैब टेकनीशियन कोर्स] - नौकरी की गारंटी

Home » Courses » डी एम एल टी कोर्स

आजकल बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप अपने भविष्य के लिए कई विकल्पों की तलाश कर सकते हैं. यदि हाई स्कूल में रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान जैसे विषयों के प्रति आप आकर्षण महसूस करते हैं, तो मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा कोर्स करना और आपके लिए बहुत लाभकारी हो सकता है. मुंबई स्थित CEDP Skill Institute (CEDP कौशल संस्थान) 12 वीं कक्षा की समाप्ति के बाद उम्मीदवारों के लिए अत्याधुनिक DMLT कोर्स पेश करता है. इस कोर्स के बाद आप नैदानिक (क्लिनिकल)क्षेत्र और संबंधित क्षेत्रों में नौकरी के अवसर पाएंगे.

इस पाठ्यक्रम को उत्तीर्ण करने के पश्चात आप चिकित्सकों और शोधकर्ताओं की सहायता कर प्रयोगशाला तकनीशियन के रूप में कई चिकित्सकीय प्रयोगशालाओं और संस्थानों में रोजगार प्राप्त कर सकेंगे. इसके अलावा, आप विशेष चिकित्सा सेवाओं, रक्त परीक्षण सुविधाओं, विश्वविद्यालयों और जांच एजेंसियों में भी रोजगार पा सकते हैं. CEDP Skill Institute (CEDP कौशल संस्थान) में आपको एक बेहतर तरह से तैयार किया गया DMLT पाठ्यक्रम प्राप्त होता है जिसमें सिद्धांत सत्र और इंटर्नशिप का सही संतुलन होता है.

मुंबई स्थित CEDP Skill Institute (CEDP कौशल संस्थान) मेडिकल लैब प्रोद्योगिकी डिप्लोमा निम्नलिखित क्षेत्रों को शामिल करता है-

मेडिकल लैब प्रोद्योगिकी में डिप्लोमा में शरीर विश्लेषण हेतु तत्वों और जीवों की स्थिति को देखने के लिए रक्त, लार, मूत्र और उतकों जैसे पदार्थों के विशेषण से संबंधित ज्ञान को शामिल किया गया है. इसमें रासायनिक विश्लेषण और सूक्ष्म जीवों की जांच भी शामिल है.

DMLT करते हुए छात्र नैदानिक परीक्षणों और परीक्षणों के नमूने, परीक्षण दस्तावेजीकरण, क्लिनिकल जांच एवं परीक्षण का प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं.
• नमूने लेना – मेडिकल लैब प्रोद्योगिकी में डिप्लोमा करने वाले छात्र के रूप में आप पुरुषों और महिलाओं से रक्त और सेल के नमूने एकत्रित करने के तरीके को सीखेंगे. इसमें उन्नत`नैदानिक परीक्षणों के लिए खून का परीक्षण करने की आवश्यकता हो सकती है जो डॉक्टरों को नमूने में विशिष्ट रोगाणुओं और वायरस की उपस्थिति का पता लगाने में सहायक सिद्ध होते हैं.

परीक्षण – नमूना लेने के साथ आप लार और रक्त सहित मानव शरीर के विभिन्न तरल अवयवों का परीक्षण करने के उचित तरीके भी सीखेंगे. रक्त में दवा और शराब का पता लगाने सहित विभिन्न उदाहरणों में यह उपयोगी हो सकता है.

दस्तावेजीकरण – DMLT के अंतर्गत मेडिकल लैब टेक्निशियन के रूप में आप नैदानिक परीक्षणों और प्रक्रिया संबंधित दस्तावेजों की बारीकियों को भी सीखेंगे. हाई प्रोफाइल और महत्वपूर्ण नैदानिक परीक्षण अक्सर सटीकता और पुष्टीकरण (प्रमाणीकरण) के प्रयोजन हेतु आरंभ से अंत तक दर्ज किए जाते हैं. दस्तावेजीकरण परीक्षण और प्रक्रियाओं के आधार पर, मैनुअल और कंप्यूटर दोनों तरह से किया जा सकता है.

डॉक्टरों और शोधकर्ताओं के साथ मिलकर काम करना – कई प्रकार के उन्नत नैदानिक परीक्षणों को पूरा करने के लिए शोधकर्ताओं और चिकित्सकों को समय समय पर चिकित्सा प्रयोगशाला तकनीशियनों की सहायता की आवश्यकता होती है. एक DMLT छात्र के रूप में आप इस तरह के माहौल में टीम वर्क सीखेंगे.

प्रवेश ओपन कॉल 1800-123-5226 (Toll-Free) या व्हाट्सप्प करो जल्द 8879787553!

मुझे डी एम एल टी कोर्स की रूपरेखा भेजें

हम आपको पाठ्यक्रम के बारे में एक पूर्ण कोर्स की रूपरेखा और अतिरिक्त जानकारी भेजेंगे

CEDP Skill Institute के साथ मेडिकल लैब प्रौद्योगिकी मे डिप्लोमा क्यों चुने? मेडिकल लैब प्रोद्योगिकी में डिप्लोमा करना निश्चित रूप से आपके लिए फायदेमंद हो सकता है लेकिन यह भी महत्वपूर्ण है कि आप इसके लिए सही संस्थान का चुनाव करें. भारत में कई संस्थान है जो  उम्मीदवारों को  मेडिकल लैब प्रद्योगिकी का पाठ्यक्रम प्रदान करते हैं. पाठ्यक्रम से गुजरने के बाद आपको बहुत सारे नौकरी के अवसर मिलेंगे. स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र की वृद्धि ने चिकित्सा प्रयोगशाला सहायकों और तकनीशियनों की डॉक्टरों की आवश्यकता को  बढ़ावा दिया है.  आप इस क्षेत्र में आकर्षक वेतन के साथ नौकरी पाने की उम्मीद कर सकते हैं,  बशर्ते आपके पास आवश्यक कौशल हो. CEDP Skill Institute (CEDP कौशल संस्थान) में  मेडिकल लैब प्रौद्योगिकी डिप्लोमा हेतु आवश्यकता अनुरूप पाठ्यक्रम तैयार किया गया है. CEDP Skill Institute (CEDP कौशल संस्थान)  से इस पाठ्यक्रम को करने के बाद,  आप को लंबे समय तक इंतजार करने की आवश्यकता नहीं होगी और न ही उद्योग संबंधित अलग परीक्षण प्राप्त करने की आवश्यकता होगी. CEDP Skill Institute (CEDP कौशल संस्थान)  का देश की अग्रणी  प्रयोगशाला के साथ पेशेवर सहयोग और गठबंधन है और इसीलिए नौकरी मिलना मुश्किल नहीं होता है.  2 वर्षीय पाठ्यक्रम में नैदानिक परीक्षणों और प्रक्रियाओं की  जटिल बारीकियों को सीख सकते हैं. यह सिद्धांत सत्रों  और व्यापक प्रायोगिक इंटर्नशिप में विभाजित होता है.  आप  सप्ताहांत, अंशकालिक और पूर्णकालिक पाठ्यक्रमों से कोई भी विकल्प चुन सकते हैं.